अब क्लाउड संचार मार्केट में एयरटेल ने की एंट्री, जानें क्या रहेंगे फायदे

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

देश में दूरसंचार क्षेत्र की प्रमुख कंपनी भारती एयरटेल (एयरटेल) ने सोमवार को ‘एयरटेल आईक्यू’ की लॉन्चिंग की। इसके साथ ही भारत में तेजी से बढ़ते क्लाउड संचार मार्केट में कदम रख दिया है। जस्टडायल, अरबन कंपनी, स्विगी और हैवल्स जैसी कंपनियां पहले ही इसकी शुरुआत कर चुकी हैं। कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षित संचार के जरिए कंपनी को ग्राहकों पर पकड़ बनाने में मदद मिलेगी।
कंपनी ने इसे देश में तेजी से बढ़ते एंटरप्राइज संचार बाजार में उलट-फेर करने वाला उत्पाद बताते हुए कहा कि क्लाउड संचार का बाजार एक अरब डालर (73 अरब रुपये से अधिक) का हो गया है। इसमें साल दर साल 20 प्रतिशत की दर से वृद्धि हो रही है। कंपनी का कहना है कि एयरटेल आईक्यू की सेवाओं को अपनाने से उद्यमियों को अपने विभिन्न चैनलों के लिए अलग अलग संचार-मंच की जरूरत नहीं रहेगी। अधिकारियों ने कहा, ‘इसमें महज एक कोड के साथ संचार सेवाओं जैसे वायस, एसएमएस, आईवीआर को संचालित किया जा सकता है और यह एक एकीकृत प्लेटफार्म के जरिए डेस्कटाप और मोबाइल पर डिजिटल लेनदेन सुलभ बनाता है। उसका कहना है कि स्वीगी, जस्टडायल, अर्बन कंपनी, हावेल्स, डा. लाल पैथ लैब्स और रैपिडो जैसी कंपनियां इसका उपयोग कर रही हैं। इस सेवा की लागत कंपनियों द्वारा इसके उपभोग के स्तर पर निर्भर करेगी। भारती एयरटेल के मुख्य उत्पाद अधिकारी आदर्श नायर ने कहा, ‘एयरटेल में हमें ग्राहकों की समस्याएं हल करने की धुन रहती है और एयरटेल आईक्यू पासा पलटने वाले उत्पादों में है। अधिकारियों ने बताया कि एयरटेल आईक्यू को पूरी तरह से एयरटेल के अंदर के इंजिनियरों ने ही तैयार किया है। यह सुरक्षित, किफायती और सहज प्लैटफॉर्म है। स्विगी के सीईओ विवेक सुंदर ने कहा कि ग्राहकों को निर्बाध सुविधान देने में क्लाउड संचार मदद करता है। भारती एयरटेल के प्रोडक्ट मैनेजर आदर्श नायर ने कहा कि एयरटेल आईक्यू कंपनी और ग्राहकों के लिए बहुत लाभकारी होने वाला है। अगली बार आपकी शॉपिंग या रेस्तरां में खाना खाने में एयरटेल आईक्यू का योगदान हो सकता है।

Related Articles