रजिस्ट्री कराते ही निगम पहुंच जाएगा नामांतरण का आवेदन

भोपाल, बिच्छू डॉट कॉम। नगर निगम में अब प्रॉपर्टी का नामांतरण ऑनलाइन हो सकेगा। साथ ही आदेश की कॉपी भी ऑनलाइन ही मिलेगी। इसके लिए न तो वार्ड दफ्तर जाना होगा और न ही किसी अफसर से मिन्नतें करनी पड़ेगी। ऑनलाइन आवेदन करने के 20 दिन के भीतर नामांतरण के आदेश की कॉपी ऑनलाइन डाउन लोड की जा सकेगी। दरअसल, प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री कराने के बाद लोगों को नगर निगम में टैक्स जमा करने के लिए प्रॉपर्टी का नामांतरण कराने का प्रावधान है, लेकिन पिछले 4 महीने में हुईं 14 हजार रजिस्ट्री की जांच के बाद पता चला कि सिर्फ 1 हजार लोगों ने ही नगर निगम में नामांतरण कराया है। इसकी एक वजह लोगों के आवेदनों पर महीनों तक सुनवाई नहीं होना भी है। ये हकीकत सामने आने के बाद निगम के अफसरों ने लोगों की सुविधा के लिए नामांतरण की मैन्युअल प्रक्रिया को ऑनलाइन करने के लिए पंजीयन मुख्यालय को पत्र लिखा था। इसके बाद पंजीयन मुख्यालय ने संपदा सॉफ्टवेयर से होने वाली रजिस्ट्रियों की डिटेल ऑनलाइन ई-नगर पालिका सॉफ्टवेयर को ट्रांसफर करना शुरू कर दिया है। नगर निगम कमिश्नर वीएस चौधरी कोलसानी ने बताया कि यह नई व्यवस्था पिछले सप्ताह से लागू हो गई है। अब रजिस्ट्री कराते ही नामांतरण का आवेदन राजस्व की तरह नगर निगम में ऑनलाइन पहुंच जाएगा। यदि प्रॉपर्टी पर कोई टैक्स बकाया नहीं है तो उसे 20 दिन के भीतर नामांतरण हो जाएगा।

Related Articles