छत्तीसगढ़ में दो रुपए किलो की दर से खरीदा जाएगा गोबर

रायपुर, बिच्छू डॉट कॉम। छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल मंत्रिमंडल ने गोधन न्याय योजना के तहत गौ पालक किसानों से दो रुपए प्रति किलोग्राम की दर से गोबर खरीदने को मंजूरी दी है। राज्य के वरिष्ठ अधकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में उनके निवास कार्यालय में मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित हुई जिसमें गोबर के क्रय की दर को दो रुपए प्रति किलोग्राम परिवहन व्यय सहित करने का अनुमोदन किया गया। अधिकारियों ने बताया कि मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम नरवा, गरूवा, घुरूवा और बाड़ी के स्वीकृत गोठानों को रोजगारोन्मुख बनाने के लिए ‘गोधन न्याय योजना’ का अनुमोदन किया गया। राज्य में हरेली पर्व से इस योजना की शुरुआत होगी। राज्य में अब तक 5,300 गोठान स्वीकृत किए जा चुके हैं, जिसमें से ग्रामीण क्षेत्रों में 2,408 और शहरी क्षेत्रों में 377 गोठान बन चुके हैं जहां से इस योजना की शुरुआत की जाएगी। उन्होंने बताया कि राज्य में स्थापित गोठान में गोवंशीय और भैंस वंशीय पशुपालकों से गोठान समितियों के माध्यम से गोबर क्रय कर उससे वर्मी कम्पोस्ट और अन्य उत्पाद तैयार किए जाएंगे। इससे जैविक खेती को बढ़ावा मिलने के साथ ही ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रोजगार के नए अवसर, गौपालन एवं गौ-सुरक्षा को प्रोत्साहन, खुली चराई पर रोक, द्विफसली क्षेत्र के विस्तार के साथ ही पशुपालकों को आर्थिक लाभ प्राप्त होगा।

Related Articles