शाहरुख पहुंचे दुबई….

जीत के बाद भी नाखुश कार्तिक…. और स्मिथ बोले….. ये दुबई है शारजाह नहीं……..

दुबई/बिच्छू डॉट कॉम। अपने मालिक शाहरुख खान के मैदान में होने के बाद जोश में आई केकेआर ने भले ही मैच में राजस्थान राॅयल को पराजित कर दिया हो लेकिन कप्तान कार्तिक अपने खिलाड़ियों की परफारमेंस से खुश नहीं हैं…… वहीं आरआर के कप्तान स्मिथ ने हार का ठीकरा अपने बल्लेबाजों के सिर फोड़ते हुए कहा कि वे दुबई को शारजाह समझ बैठे….कोलकाता नाइट राइडर्स ने बेशक बुधवार को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में राजस्थान रॉयल्स को मात दे अपनी दूसरी जीत दर्ज की हो लेकिन टीम के कप्तान दिनेश कार्तिक ने कहा है कि टीम के प्रदर्शन में सुधार की गुंजाइश है.मैच के बाद कार्तिक ने कहा, मैं इसे परफेक्ट नहीं कहूंगा. कई ऐसी जगहें हैं, जहां हमें सुधार करने की जरूरत है. यह शानदार मैच था। कार्तिक ने टीम के युवा खिलाड़ियों की भी जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, शुभमन गिल ने जिस तरह से शुरुआत की वो मुझे अच्छा लगा. आंद्रे रसेल और इयोन मोर्गन ने जिस तरह से खेला उससे भी मैं खुश हूं. अच्छी बात यह थी कि युवा खिलाड़ी कैच के लिए जा रहे थे, चाहे वो कितना भी ऊंचा क्यों न हो. यह काफी खास है. उनके लिए यहां आकर अपना खेल खेलना शानदार था।

दुबई में खले गये आईपीएल के इस 12वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में छह विकेट खोकर 174 रन बनाए. इसके जवाब में राजस्थान रॉयल्स टीम 9 विकेट गंवाकर 137 रन ही बना सकी और  37 रनों से राजस्थान यह मैच हार गई। शाहरुख खान परिवार के साथ दुबई में नजर आए. शाहरुख खान और गौरी खान की कुछ तस्वीरें और वीडियो भी खूब वायरल हो रहे हैं, जिसमें वह अपने बड़े बेटे आर्यन खान के साथ स्टेडियम में टीम को चियर करते दिखाई दे रहे हैं. उधर हार के बाद स्मिथ ने कहा कि हमारे कुछ बल्लेबाज शायद सोच रहे थे कि वे अब भी शारजाह में खेल रहे हैं। गौरतलब है कि राजस्थान रॉयल्स ने अपने पिछले दोनों मैच शारजाह में ही खेले थे जो दुबई के मुकाबले छोटा मैदान है। इसके अलावा उसकी पिच भी बल्लेबाजी के लिए आसान है और उस पर आसानी से बड़े शॉट्स खेले जा सकते हैं।स्मिथ ने दोनों मैदानों की तुलना करते हुए कहा, सीधा मैदान बहुत बड़ा है। हमने बहुत ज्यादा गेंदें उस दिशा में जाती नहीं देखीं। स्मिथ ने माना कि उनकी टीम इस मैदान के साथ तालमेल नहीं बैठा पाई। उन्होंने कहा, हम शायद विकेट और मैदान के आकार के साथ तालमेल नहीं बैठा पाए। हमें कुछ कैच छोड़ने भी महंगे पड़े।

Related Articles