कोहली को आंख दिखाएंगे पंत, राहुल और संजू सैमसन….

विराट कोहली

नयी दिल्ली/बिच्छू डॉट कॉम। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की परेशानी 9 अप्रैल से बढ़ने वाली है….. विराट को क्रिकेट के मैदान में उनके ही अपने आंख दिखाने के लिए तैयार हो रहे हैं। जो खिलाड़ी विराट से दो दो हाथ करने वाले हैं उनमें पंत, संजू सैमसन और के एल राहुल के नाम प्रमुख हैं जो अब तक कोहली की कप्तानी में उनके इशारों पर नाचते रहे हैं……. यही कारण है कि कोहली को एक मुहावरा याद आ रहा है….. मेरी बिल्ली मुझी से म्याउं….यूं तो ये परेशानी कोई नई नहीं है लेकिन हर साल इस परेशानी को लेकर नए सिरे से तैयारी तो करनी ही पड़ती है. ये परेशानी है भारतीय टी-20 लीग में विराट कोहली के सामने खड़े कप्तानों की. भारतीय टी-20 लीग की 8 टीम में दो टीम के कप्तान विदेशी हैं. कोलकाता नाइट राइडर्स की कमान ऑयन मॉर्गन के हाथ में है. जबकि सनराइजर्स हैदराबाद की कमान संभालते हैं- डेविड वॉर्नर. मॉर्गन और वॉर्नर की बात छोड़ देते हैं. बात ऐसे भारतीय खिलाड़ियों की करते हैं जिन्हें भारतीय टी-20 लीग में कप्तानी सौंपी गई है. इस सीजन में तीन ऐसे खिलाड़ी हैं जो अनुभव के लिहाज से विराट से काफी पीछे हैं लेकिन अब उनके सामने मैदान में बतौर कप्तान उतरेंगे।

हाल ही में ऋषभ पंत को दिल्ली की कमान सौंपी गई है. दिल्ली की टीम ने ये फैसला श्रेयस अय्यर को लगी चोट के बाद किया. श्रेयस अय्यर को इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान चोट लग गई थी. इसके अलावा पिछले सीजन के मुकाबले कप्तानी के लिहाज से एक और बड़ा बदलाव है.वो बदलाव राजस्थान रॉयल्स की टीम में है. राजस्थान रॉयल्स की कमान संजू सैमसन संभालेंगे. ऐसा इसलिए क्योंकि पिछले सीजन के कप्तान स्टीव स्मिथ इस साल दिल्ली की टीम के साथ हैं. केएल राहुल भी ऐसे कप्तानों की फेहरिस्त में आते हैं जो विराट के सामने अनुभव के लिहाज से कहीं नहीं ठहरते. भारतीय कप्तानों के लिहाज से दो खिलाड़ी ऐसे हैं जो या तो विराट से सीनियर हैं या फिर उनके समकालीन. दिलचस्प बात ये है कि यही दोनों कप्तान भारतीय टी-20 लीग के सबसे सफलतम कप्तान भी हैं. विराट धोनी की कप्तानी में खेले हैं जबकि रोहित शर्मा और विराट का करियर लगभग साथ साथ शुरू हुआ था. वरना ऋषभ, केएल राहुल और संजू सैमसन विराट कोहली की कप्तानी में खेलते रहे हैं. लेकिन अब वो मैदान में विराट को आंख दिखाने से नहीं चूकेंगे. वक्त की मांग भी यही है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में विराट बनाम ऋषभ पंत, संजू सैमसन या केएल राहुल के रिकॉर्ड्स की तुलना करने के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता है. टी-20 फॉर्मेट में विराट कोहली को 10 साल का तजुर्बा है. विराट कोहली 90 टी-20 मैच खेल चुके हैं. उनके खाते में 3159 रन हैं. 5 साल के टी-20 अनुभव वाले केएल राहुल के खाते में 49 मैच में 1557 रन हैं. 4 साल के अनुभव वाले ऋषभ पंत के पास 33 टी-20 मैच में 512 रन हैं. संजू सैमसन के पास अनुभव तो 6 साल का है लेकिन उन्हें सिर्फ 7 मैच खेलने का मौका मिला है. इसमें उनके खाते में 83 रन हैं. यानी इन तीनों खिलाड़ियों के अनुभव और रिकॉर्ड को अगर जोड़ लें तो मैचों की संख्या तो लगभग विराट के बराबर हो जाती है लेकिन रन में एक हजार से ज्यादा का फर्क है. इन तीनों खिलाड़ियों के मुकाबले विराट कोहली ने 1007 रन ज्यादा बनाए हैं.विराट कोहली ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए 192 मैच खेले हैं. इसमें उन्होंने 5878 रन बनाए हैं. इसमें 5 शतक शामिल हैं. वो भारतीय टी-20 लीग के इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की फेहरिस्त में पहले नंबर पर हैं. केएल राहुल दूसरे सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं. 2013 से लेकर अब तक उन्होंने 81 मैच खेले हैं. इसमें उन्होंने 1949 रन बनाए हैं. उनके खाते में भी 2 शतक है. इतना ही अनुभव संजू सैमसन को भी है. संजू सैमसन भी 2013 से आईपीएल खेल रहे हैं. इससे पहले वो कोलकाता की टीम का हिस्सा थे. लेकिन मैदान में वो पहली बार राजस्थान रॉयल्स के लिए उतरे थे. उन्होंने अब तक 107 मैच में 1932 रन बनाए हैं. इसमें 2 शतक शामिल हैं. ऋषभ पंत ने भारतीय टी-20 करियर की शुरुआत 2016 से की थी।

Related Articles