पाकिस्तानी खिलाड़ी नहीं भुला पा रहे भारत से मिली हार का गम

लाहौर, बिच्छू डॉट कॉम।

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज उमर गुल का कहना है कि भारत को मोहाली में 2011 विश्व कप सेमीफाइनल में नहीं हरा पाने का उनको ताउम्र अफसोस रहेगा। पाकिस्तान ने भारत को विश्व कप इतिहास में कभी नहीं हराया है। मोहाली के पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम में भी 30 मार्च, 2011 को यही हुआ और भारत ने पाकिस्तान को 29 रनों से हराकर फाइनल में प्रवेश किया और फिर महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में श्रीलंका को हराते हुए दूसरी बार विश्व चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया। गुल ने पाकपैशन से कहा, अगर आप क्रिकेट करियर की बात करें तो मेरे मन में सिर्फ और सिर्फ इस बात का अफसोस रहता है कि हम मोहाली में सेमीफाइनल में भारत को नहीं हरा सके थे। उस मैच से पहले हम टूर्नामेंट में शानदार खेले लेकिन एक मैच ने हमारी सारी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। गुल ने हाल ही में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया है। गुल ने पाकिस्तान के लिए कुल 427 इंटरनेशनल विकेट लिए हैं।

Related Articles