मेदवेदेव का विजयी रथ जारी, डिएगो को हराकर अगले दौर में प्रवेश

लंदन, बिच्छू डॉट कॉम।

रूस के टेनिस खिलाड़ी डेनिल मेदवेदेव ने अर्जेंटीना के डिएगो श्वाट्रजमैन को सीधे सेटों में मात दे एटीपी फाइनल्स के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। मेदवेदेव ने श्वाट्रजमैन को 6-3, 6-3 से मात दी। इस जीत के बाद मेदवेदेव ने ग्रुप टोक्यो 1970 का अंत 3-0 से किया। पिछले साल वह इस टूर्नामेंट में एक भी मैच नहीं जीत पाए थे। अब सेमीफाइनल में उनका सामना स्पेन के राफेल नडाल से होगा। मैच के बाद मेदवेदेव ने कहा, मैं अपने पहले दो मैचों में शानदार खेला। मुझे लगता है कि अजेय रहना आत्मविश्वास के लिए अच्छा है। मैं मैच जीतना चाहता था, इसलिए मैं इस बात से खुश हूं कि मैंने यह किया। मैंने आज सर्विस अच्छी की इससे मैं पूरे मैच में अच्छा कर सका। मेदवेदेव के खिलाफ नडाल का रिकार्ड 3-0 का है। मेदवेदेव ने नडाल के साथ खेले जाने वाले मैच को लेकर कहा, मैं बिग थ्री के साथ खेलना पसंद करता हूं। मैं जब युवा था, रैकेट पकडऩा शुरू किया था, और टेनिस में मेरी दिलचस्पी बढ़ रही थी.. मैंने ग्रैंड स्लैम देखना शुरू किया। पहले रोजर सब कुछ जीतते थे, फि राफा आए जिन्होंने अपना नाम बनाया और फिर जोकोविच। इन तीनों के खिलाफ खेलना अच्छा लगता है। मेदवेदेव 2009 के बाद पहले ऐसे रूसी खिलाड़ी हैं जो लगातार दो साल एटीपी फाइनल्स खेल रहे हैं। उनसे पहले निकोलाए डावीडेंको ने (2005-09) लगातार एटीपी फाइनल्स खेले थे। वह अभी तक एक भी सेट नहीं हारे हैं। ग्रुप दौर में वह इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जो एक भी मैच नहीं हारे।

Related Articles