शहरी इलाकों में दान के मास्क बांटने की तैयारी

मास्क

भोपाल/अपूर्व चतुर्वेदी/बिच्छू डॉट कॉम। प्रदेश में लगातार बढ़ते कोरोना के मामलों के बाद भी लोगों द्वारा मास्क नहीं पहनने वालों को अब नगरीय निकायों द्वारा मास्क पहनाने की तैयारी कर ली गई है। इसके लिए दान के मास्कों का शहारा लिया जाएगा। ऐसे लोगों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की सख्ती के साथ ही उन्हें बतौर उपहार मास्क पहनाने की योजना पर अब काम शुरू कर दिया गया है। इसके लिए हर निकाय और उसके इलाके के शासकीय अस्पतालों में मास्क बैंक स्थापित किए जा रहे हैं, जिसमें कोई भी मास्क दान कर सकता है। इन मास्क को ही आम आदमी को जागरुकता अभियान और चालानी कार्रवाई के दौरान लोगों को दिया जाएगा। यह मास्क देने के साथ ही लोगों को मास्क पहनने के लिए जागरुक किया जाएगा। इसके अलावा अब सरकार ने मास्क पहनने से लेकर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रचार प्रसार में भी निकायों की भूमिका तय कर दी है। इसके लिए हाल ही में जारी निर्देशों में कहा गया है कि यह मास्क कोई भी दान कर सकता है। खास तौर पर बड़े उद्योगपति, कंपनियों के संचालकों, व्यवसायी और अधिकारियों से भी इस मामले में मदद ली जा सकती है। इन मास्क को जरुरतमंदों के साथ ही मास्क नहीं लगाने वाले लोगों को वितरित किया जाएगा।
प्रचार प्रसार पर जोर
लोगों को मास्क पहनने और कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को जागरुक करने के लिए अब नगरीय निकायों द्वारा प्रचार -प्रसार का काम भी किया जाएगा। इसके लिए शहरी इलाकों में डिस्प्ले बोर्डों का उपयोग किया जाएगा। इसमें उन्हें जागरुक करने वाले संदेश तो होंगे ही साथ ही उससे संबंधित संदेशों का भी प्रसारण लगातार किया जाएगा। इसी तरह से बड़े निकायों में जहां वाहनों का उपयोग बड़े पैमाने पर कामों में किया जाता है उनसे भी जागरुकता संदेश के साथ ही बचाव के उपायों का संदेश प्रचारित किया जाएगा। इसमें भी खासतौर पर कचरा वाहनों का उपयोग किया जाएगा।

Related Articles