सेना के लिए संचार नेटवर्क बनाएगी आईटीआई

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम। सरकारी स्वामित्व वाली आईटीआई लिमिटेड ने केंद्रीय रक्षा मंत्रालय के साथ 7796 करोड़ रुपये के अनुबंध पर हस्ताक्षर करने की घोषणा की। कंपनी को इस कांट्रेक्ट के तहत पूरे देश में सेना के लिए सामरिक व सुरक्षित संचार नेटवर्क तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई है। टेलिकॉम व रक्षा उपकरण निर्माता आईटीआई को 2017 में आर्मी स्टेटिक स्विच्ड कम्युनिकेशन नेटवर्क (एस्कॉन) के चौथे चरण के टेंडर में सबसे कम बोली लगाने वाली कंपनी घोषित किया गया था। कंपनी के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक आरएम अग्रवाल ने कहा, भारतीय सेना का संचार नेटवर्क मजबूत करने के लिए आईटीआई लिमिटेड ने आज (बृहस्पतिवार को) एस्कॉन के चौथे चरण के तहत 7796 करोड़ रुपये की परियोजना पर हस्ताक्षर किए हैं।
इसके तहत कंपनी पूरे देश में सुरक्षित संचार के लिए सामरिक नेटवर्क बिछाएगी ओर साथ ही अगले 10 साल तक उसका मरम्मतीकरण भी करेगी। अग्रवाल के मुताबिक, उनकी कंपनी ने पिछले तीन दशक में एस्कॉन प्रोजेक्ट के पहले तीनों चरणों को सफलता से लागू करने और उनका मरम्मतीकरण संभालने का काम किया है। हम चौथे चरण के प्रोजेक्ट को लेकर बेहद उत्साहित हैं। इस चरण के तहत पूरे देश में 11 हजार किलोमीटर ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क बिछाएगी। बता दें कि एस्कॉन सेना का टेलिकॉम नेटवर्क है, जो इंटरनेट प्रोटोकॉल-मल्टी प्रोटोकॉल लेबल स्विचिंग (आईपी-एमपीएलएस) आधारित कम्युनिकेशन नेटवर्क है और इसमें माइक्रोवेव रेडियो, सैटेलाइट और अपना ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क शामिल है।

Related Articles