उगते सूर्य को अघ्र्य देकर संपन्न हुई छठ पूजा, भगवान से मांगी दुआएं

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम। उगते सूर्य को अघ्र्य देकर शनिवार को छठ पूजा संपन्न हो गई है। छठ पूजा मनाने वाले व्रतियों ने 36 घंटे का निर्जला व्रत रखकर कड़ी साधना करके सूर्य से अपनी कृपा बनाए रखने की प्रार्थना की। देश के विभिन्न शहरों में सूर्य को अघ्र्य दिया गया। महिलाओं ने छठी मइया और सूर्य भगवान से अपनी संतानों, पति व परिवार की खुशियां मांगीं। इसके बाद उन्होंने अपने निर्जल व्रत का पारायण किया। इस दौरान राजधानी पटना में छठ घाटों पर व्रतियों के अलावा परिवार के सदस्यों की भीड़ उमड़ी रही। इससे पहले को महिलाओं ने अस्ताचलगामी सूर्य को अघ्र्य देकर पूजा अर्चना के साथ अपने व्रत की शुरुआत की थी। शाम चार बजे से ही नदी व पोखरों पर महिलाएं पूजा के लिए पहुंच गईं और शाम ढलने के बाद सूर्य को अघ्र्य देकर घर लौटीं। 
झारखंड के रांची, बिहार के पटना और उत्तर प्रदेश के लखनऊ, वाराणसी और गोरखपुर में बड़ी संख्या में लोग आज चार दिवसीय छठ पूजा के समापन के दिन नदी घाटों पर महिलाओं ने पारंपरिक तरीके से पूजा अर्चना की। इस दौरान लोग कोविड-19 के दिशानिर्देशों को पालन करते हुए नजर आए।

Related Articles