ये हैं त्वचा को चमकदार रखने वाली पांच औषधियां

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

दमकती त्वचा का सपना कौन नहीं देखता,लेकिन आजकल बढ़ते प्रदूषण, खराब लाइफ स्टाइल और तनाव की वजह से लोगों को त्वचा संबंधी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। बाजार में मौजूद महंगे ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी केमिकल मौजूद होने की वजह से आपके चेहरे की रंगत को सिर्फ फीका बनाने का काम करते हैं। ऐसे में चेहरे की खोई रंगत वापस पाने के लिए क्या करें? ये सवाल मन में उठना लाजमी है। तो आपको बता दें, आपके हर सवाल का जवाब आयुर्वेद के पास मौजूद है। जी हां, आयुर्वेद में कई ऐसी जादुई जड़ी बूटियां मौजूद हैं जो चेहरे की समस्याएं दूर कर आपको गुलाबी निखार देने में मदद करती हैं। आइए जानते हैं ऐसी ही 5 आयुर्वेदिक हर्ब्स के बारे में।

आंवला-
आंवला विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है, जो इसे एक बेहतरीन एंटी एजिंग जड़ी बूटी बनाता है। आंवला त्वचा को स्वस्थ रखने के साथ बढ़ती उम्र के लक्षणों को भी कम करने का काम करता है।

तुलसी-
तुलसी को देश-दुनिया में उसके औषधीय गुणों के लिए पहचाना जाता है। तुलसी ना सिर्फ आपकी सेहत का ध्यान रखती है बल्कि आपकी खूबसूरती को भी बनाए रखनेमें आपकी मदद करती है। इसका नियमित सेवन करने से आपको ना सिर्फ पोषण मिलता है बल्कि चेहरे से झुर्रियां भी दूर रहती हैं।

जिनसेंग-
जिनसेंग एक मैजिकल प्लांट है जिसकी जड़ों का इस्तेमाल औषधि के तौर पर किया जाता है। आमतौर पर यह साइबेरिया, कोरिया, उत्तेरी चीन या इंडोनेशिया में पाई जाती है। जिनसेंग में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा के स्वास्थ्य के साथ शरीर में फ्री रेडिकल्स के नकारात्मक प्रभाव को कम करता है।

अश्वगंधा-
अश्वगंधा में एंटी-स्ट्रेस गुण तनाव से राहत दिलाता है। इतना ही नहीं अश्वगंधा कमजोरी दूर करने और अच्छी नींद लेने में भी काफी फायदेमंद माना गया है। यह जादुई जड़ी बूटी स्किन और बालों के लिए किसी टॉनिक से कम नहीं है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा को मुक्त कणों से बचाने में मदद करते हैं।

हल्दी-
हल्दी मानव जाति के लिए प्रकृति का एक उपहार है। अच्छे स्वास्थ्य से लेकर त्वचा की सेहत की जिम्मेदारी तक हल्दी ने संभाल रखी है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन में एंटी एजिंग गुण होते हैं, जो आपकी त्वचा को जवां बनाते हैं।

Related Articles