देवी मां को करना है खुश तो शारदीय नवरात्रि के दौरान इन बातों का रखें खास ख्याल

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

इस वर्ष अधिकमास लगा है जिसके चलते शारदीय नवरात्रि में एक महीने का विलंभ हुआ है। इस वर्ष नवरात्रि 17 अक्टूबर दिन शनिवार से प्रारंभ होगी। इस दौरान माता रानी के 9 स्वरूपों की पूजा की जाती है। इन 9 दिन लोग व्रत और पूजा-पाठ करते हैं। शारदीय नवरात्रि के व्रत में संयम रखने की बेहद जरूरत होती है। इन दिनों हम कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जिनकी जानकारी हम आपको यहां दे रहे हैं। ऐसा कहा जाता है कि नवरात्रि के दौरान व्यक्ति को तामसिक भोजन नहीं करना चाहिए। तामसिक भोजन में लहसुन, प्याज, मांस-मदिरा सम्मिलित होते हैं। इन्हें घर पर भी नहीं लाना चाहिए। इस दौरान व्यक्ति को अनाज और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। हालांकि, व्रत में कई लोग सेंधा नमक का सेवन करते हैं। नवरात्रि में चमड़े से बनी किसी भी चीज का इस्तेमान न करें। पूजा करते समय धूप का इस्तेमाल करें। अगरबत्ती को उपयोग न करें क्योंकि अगरबत्ती बांस और केमिकल से बनाई जाती है। इसका स्वास्थ्य पर खराब असर होता है। माता रानी की पूजा करते समय उनकी पुरानी या फिर खंडित मूर्ति का इस्तेमान न करें। पूजा के बाद मां दुर्गा की आरती जरूर करें। पूजा में जो भी कमी रह जाती है या फिर गलती हो जाती है वो आरती से पूरी हो जाती है। इस दौरान जो लोग व्रत करते हैं उन्हें दिन में सोना नहीं चाहिए। जो भी व्यक्ति नवरात्रि का व्रत करते हैं उन्हें नाखून, दाढ़ी-मूंछ और बाल नहीं कटाने चाहिए। पूजा करते समय जब आरती की जाए तो इसे खंड-खंड में न करें एक ही बार में संपन्न करें। जो व्यक्ति व्रत कर रहा है उसे स्वच्छ वस्त्र पहनने चाहिए।

Related Articles