विश्व के टॉप-30 कोर्सेस में 6 भारतीय प्लेटफार्म

बिच्छू डॉट कॉम, डेस्क। लॉकडाउन ने लर्निंग प्रोसेस में बदलाव लाते हुए सीखने और सिखाने का तरीका बदल दिया है। अब ई-लर्निंग बढ़ रही है और कॉलेज व स्कूल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर आ गए हैं। भारत सरकार के पोर्टल स्टडी वेब्स ऑफ एक्टिव-लर्निंग फॉर यंग एस्पाइरिंग माइंड्स द्वारा 2800 से ज्यादा ऑनलाइन कोर्सेस ऑफर किए जाते हैं, जो नि:शुल्क हैं। ये कोर्स ऑफर करने वालों में आईआईएम, आईआईटी, बीएचयू, इग्नू जैसी नामी संस्थान शामिल हैं। हाल ही में ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉम ने दुनिया के टॉप कोर्सेस की लिस्ट जारी की, जिनमें भारत के ६ कोर्स भी शामिल हैं। इन कोर्सेस में रजिस्ट्रेशन जारी है…

पायथॉन फॉर डेटा साइंस

  • अवधि: 4 सप्ताह
  • आवेदन की अंतिम तिथि: 27 जुलाई
  • परीक्षा: 27 सितंबर 2020
  • यह एआईसीटीई एप्रूव्ड एक एफडीपी बेस्ड कोर्स है, जो आईआईटी मद्रास ने ऑफर किया है। इसके जरिए पार्टिसिपेंट पायथॉन प्रोग्रामिंग से डेटा साइंस प्रॉब्लम्स को सॉल्व करने की स्किल सीखते हैं। जो आगे जॉब में भी मदद करता हैं। यह मुख्य रूप से फाइनल ईयर अंडर ग्रेजुएशन स्टूडेंट्स के लिए है। इस कोर्स के बाद ई-सर्टिफिकेट प्रदान किया जाउएगा।

मैथेमेटिक्स ईकोनॉमिक्स

  • अवधि: 15 सप्ताह
  • आवेदन की अंतिम तिथि: 31 अगस्त
  • परीक्षा: 15 नवंबर 2020
  • यह कोर्स मैथेमेटिक्स के जरिए ईकोनॉक्सि को आसान बनाने के लिए डिजाइन किया गया है। इकोनॉमिक्स के अलावा यह कोर्स इंजीनियरिंग, आर्किटेक्चर, मेडिसिन, फाइनेंस, मैनेजमेंट, पॉलिसी मेकिंग और एनालिटिक्स में प्रॉब्लम सॉल्विंग के लिए कारगर है। इसके मल्टीपल च्वॉइस क्वेश्चन खुद को अपग्रेड करने में मदद करेंगे।

डिजिटल मार्केटिंग

  • अवधि: 15 सप्ताह
  • आवेदन की अंतिम तिथि: 31 अगस्त
  • परीक्षा: 15 नवंबर 2020
  • यह पोस्ट ग्रेजुएट लेवल के लिए उपलब्ध कोर्स है, जो पंजाब यूनिवर्सिटी ने ऑफर किया है। इंटरनेट और मोबाइल फोन के यूजर्स में पिछले दो दशकों में बहुत तेजी से इजाफा हुआ है। मार्केटिंग का भी प्रमुख टूल बन गया है। कोर्स को करने के लिए हार्डकोर टेक्निकल नॉलेज होना जरूरी नहीं है।

एकेडमिक राइटिंग

  • अवधि: 15 सप्ताह
  • आवेदन की अंतिम तिथि: 31 अगस्त
  • परीक्षा: 14 नवंबर 2020
  • 85 से अधिक देशों के 20 हजार से अधिक प्रतिभागी इस कोर्स का लाभ ले चुके है। यह कोर्स रिसर्च और एकेडमिक्स में कॅरियर बनाने वाले के लिए फायदेमंद है। इसके जरिए एकेडमिक और रिसर्च के पेपर्स को बेहतर तरीके से लिख जा सकता है।

अर्ली चाइल्डहुड केयर एंड एजुकेशन

  • अवधि: 15 सप्ताह
  • आवेदन की अंतिम तिथि: 31 अगस्त
  • परीक्षा: 15 नवंबर 2020
  • बच्चे के शुरुआती 6 साल महत्वपूर्ण होते है। वह आसपास के वातावरण से जो अनुभव लेता है उससे दिमाग के कनेक्शन बनता है। कोर्स में प्रतिभागी को ह्यूमन डव्लपमेंट, साइकोलॉजी, सोशियोलॉजी, न्यूरोसाइंस व मेडिसन के जरिए इस स्टेज को बेहतर बनाने को सिखाया जाता है।

Related Articles