ट्रंप को झटका, एच-1बी वीजा पर बैन के फैसले पर रोक

Trump shocked, ban on H-1B visa ban

कैलिफोर्निया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चुनावी अभियान के दौरान झटके पर झटके लग रहे हैं। अब कैलिफोर्निया के डिस्ट्रिक्ट जज जेफ्री व्हाइट ने एच-1बी वीजा पर लगाए बैन पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा कि राष्ट्रपति ने अपने संवैधानिक अधिकारों को पार कर किया है। एच-1बी वीजा पर लगे बैन को हटाने के लिए व्यापारिक संगठनों ने डिपार्टमेंट ऑफ कॉमर्स और डिपार्टमेंट ऑफ होमलैंड सिक्युरिटी के खिलाफ याचिका दाखिल की थी। यह याचिका कंपनियों के राष्ट्रीय संगठन नेशनल एसोसिएशन ऑफ मैन्युफैक्चरर्स, यूएस चैंबर ऑफ कॉमर्स, नेशनल रिटेल फेडरेशन और टेकनेट ने दाखिल की थी। नेशनल एसोसिएशन ऑफ मैन्युफैक्चरर्स ने कहा कि कोर्ट के फैसले के बाद वीजा प्रतिबंधों पर तुरंत रोक लग गई है।
जून में लगाया गया था बैन
इसी साल जून में ट्रम्प प्रशासन ने एच-1बी वीजा समेत अन्य विदेश वीजा पर अस्थायी रोक लगा दी थी। इस रोक का असर एच-2बी, जे और एल वीजा पर पड़ा था। यह रोक इस साल के अंत तक के लिए लगाई गई थी। ट्रम्प ने कहा था कि इस कदम से अमेरिकियों को रोजगार के ज्यादा मौके मिलेंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था कि फरवरी से मई के बीच अमेरिका में बेरोजगारी चार गुना तक बढ़ गई है। लिहाजा, उन्हें सख्त कदम उठाने पड़ रहे हैं।

Related Articles