अल-हतलुल पर सऊदी अरब ने लगाए आतंकवाद के आरोप

बेरूत। प्रतिबंध के बावजूद कार चलाने से लेकर अन्य महिला अधिकारों के लिए लड़ रहीं लुजिन अल हतलुल पर सऊदी अरब ने आतंकवाद व देश विरोधी गतिविधियों के आरोप लगाए हैं। उनके मुकदमे को इन मामलों के लिए बनी विशेष अदालत के सुपुर्द किया है। बुधवार को बेहद कमजोर नजर आ रहीं 31 साल की अल-हतलुल की उपस्थिति में सऊदी अरब की आपराधिक अदालत के जज ने यह जानकारी दी। महिला अधिकारों के लिए अभियान चलाने, देश की राजनीतिक व्यवस्था बदलने के प्रयास, विदेशी पत्रकारों, राजदूतों व मानवाधिकार संगठनों से बातचीत जैसे आरोप लगाते हुए उन्हें 2018 में गिरफ्तार किया गया। उनकी बहन लीना अल हतलुल ने बताया कि एक साल आठ महीने सुनवाई के बाद अब आपराधिक अदालत ने बताया कि मामला उसके क्षेत्राधिकार का नहीं है। पिछले हफ्ते विदेश राज्यमंत्री अदील अल जुबैर ने कहा था कि हतलुल महिला अधिकार कार्यकर्ता होने की वजह से नहीं बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले में गिरफ्तार हैं।

Related Articles