पाक में मुस्लिम किशोर ने की अल्पसंख्यक डॉक्टर की हत्या

लाहौर। पाकिस्तान के पंजाब में 17 वर्षीय मुस्लिम किशोर ने शुक्रवार को अल्पसंख्यक अहमदिया समुदाय के एक डॉक्टर की महज इसलिए गोली मारकर हत्या कर दी, क्योंकि उसे डॉक्टर के विचार अपने धर्म के विपरीत लग रहे थे। किशोर ने डॉक्टर के पिता और दो चाचाओं को भी गोली मारकर घायल कर दिया। पुलिस के मुताबिक, घटना शुक्रवार को लाहौर से 80 किलोमीटर दूर ननकाना साहिब के मुर्ह बलोचन में तब हुई, जब अहमदी परिवार के सदस्य नमाज पढऩे के बाद अपने घर वापस लौटे थे। इसी दौरान वहां बंदूक लेकर पहुंचे किशोर ने उनके ऊपर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। पुलिस ने कहा, फायरिंग में 31 वर्षीय डॉक्टर ताहिर अहमद की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके पिता तारिक अहमद और दो चाचा गोली लगने से घायल हो गए। ताहिर ने रूस से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की थी और डॉक्टरी की प्रैक्टिस कर रहा था। पुलिस ने बताया कि 17 वर्षीय हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है। पड़ोस में ही रहने वाला किशोर अहमदिया समुदाय के खिलाफ कट्टरपंथी विचारों से प्रभावित था। उसने पूछताछ के दौरान हमले के लिए आपसी धार्मिक मतभेद को कारण बताया है। अहमदिया समुदाय के प्रवक्ता सलीम-उद-दीन ने इस हमले की कड़ी निंदा की और आरोप लगाया कि पाकिस्तान में अहमदिया विरोधी अभियान की लहर चल रही है। 

Related Articles