हाइड्रोजन ईंधन वाली पैसेंजर प्लेन ने भरी उड़ान

लंदन। हाइड्रोजन ईंधन से उडऩे वाले दुनिया के पहले पैसेंजर प्लेन ने ब्रिटेन में सफल उड़ान भरी है। इस प्लेन की उड़ान को वैश्विक विमानन उद्योग के लिए बड़ा कदम माना जा रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि इससे न केवल वायु प्रदूषण में कमी आएगी, बल्कि जीवाश्म ईंधन से हमारी निर्भरता भी कम होगी। इस विमान को ब्रिटिश एयरोस्पेस स्टार्टअप कंपनी ने डिजाइन किया है। यात्री विमान ने लंदन के उत्तर में लगभग 50 मील की दूरी पर क्रैनफील्ड हवाई अड्डे पर कंपनी के रिसर्च एंड डेवलेपमेंट साइट पर इस उड़ान को भरा। इस दौरान विमान ने हाइड्रोजन ईंधन की मदद से न केवल टेक ऑफ किया बल्कि फुल पैटर्न सर्किट को पूरा करते हुए शानदार लैंडिंग भी की।
2021 के अंत तक 250 मील होगी इसकी रेंज
कंपनी ने बताया कि उसका अगला लक्ष्य 2021 के अंत तक इस विमान के उड़ान की रेंज को बढ़ाकर 250 मील तक करना है। इससे यह विमान प्रमुख शहरों जैसे न्यूयॉर्क से बोस्टन और लॉस एंजिल्स से सैन फ्रांसिस्को के बीच लोकप्रिय हवाई मार्गों के बीच उड़ान भरने में सक्षम होगा।

Related Articles