सरकारी एजेंसियों ने की धान की रिकॉर्ड खरीदी

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

सरकारी एजेंसियों ने पंजाब में 175 लाख टन से ज्यादा धान की खरीद कर ली है, जोकि देशभर में अब तक हुई धान की सरकारी खरीद का 70 फीसदी से ज्यादा है। केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय की ओर से रविवार को मिली जानकारी के अनुसार, सात नवंबर 2020 तक देशभर में चालू खरीफ विपणन सीजन में धान की कुल खरीद 248.99 लाख टन से अधिक हो चुकी थी। मंत्रालय की जानकारी के अनुसार, धान की कुल खरीद में पंजाब में 175.24 लाख टन की खरीद की गई, जोकि कुल खरीद का 70.37 प्रतिशत है। धान की कुल खरीद में हरियाणा का योगदान अब तक 21 फीसदी है। जबकि अन्य प्रदेशों में खरीद की रफ्तार सुस्त चल रही है। चालू खरीफ विपणन सीजन 2020-21 में धान की खरीद पंजाब, हरियाणा, उत्तरप्रदेश, तेलंगाना, उत्तराखंड, तमिलनाडु, चंडीगढ़, जम्मू एवं कश्मीर, केरल, गुजरात और आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में चल रही है। सरकारी एजेंसियां किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर धान की खरीद करती हैं। केंद्र सरकार द्वारा लागू नये कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब में किसान संगठन विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, उनमें एमएसपी एक बड़ा मुद्दा है और किसानों संगठनों की मांग है कि सभी फसलों की खरीद एमएसपी पर सुनिश्चित करने के कानून में प्रावधान होना चाहिए। सरकार ने इस साल कॉमन ग्रेड धान का एमएसपी 1,868 रुपये प्रति क्विंटल जबकि ग्रेड-ए धान का एमएसपी 1,888 रुपये प्रतिक्विंटल तय किया है। मंत्रालय से मिले आंकड़ों के अनुसार, धान की पिछले वर्ष इसी अवधि के दौरान 207.63 लाख टन धान की खरीद की गई थी। इस प्रकार, पिछले साल के मुकाबले इस साल अब तक 19.92 फीसदी ज्यादा धान की खरीद हुई है। नकदी फसल कपास की सरकारी खरीद सात नवंबर तक 10,22,074 गांठ (एक गांठ में 170 किलो) हो चुकी थी।

Related Articles