बाइडेन के राष्ट्रपति बनने के बाद भारत की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा असर, जानें क्या आएगा फर्क

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

देश के उद्योग जगत ने अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडन की जीत का स्वागत किया है। भारतीय उद्योग जगत ने कहा है कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया में बदलाव के लिए मतदान किया गया है एवं उम्मीद जतायी है कि इससे भारत और अमेरिका के बीच रिश्ते और सहयोग को मजबूती मिलेगी। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन और निर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को शुभकामनाएं देते हुए सीआईआई के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी ने कहा, हम बाइडन और उनकी बनने वाली सरकार के साथ सहयोग को लेकर आशान्वित हैं। बनर्जी ने कहा कि कोविड-19 की वजह से पैदा हुई दिक्कतों से पूर्व भारत और अमेरिका के बीच वस्तुओं और सेवाओं का द्विपक्षीय व्यापार 2019 में करीब 150 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया था। उन्होंने उम्मीद जतायी कि आगामी वर्षों में यह और बढ़ेगा। अमेरिका-भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी) ने कहा है कि बाइडन ने बराक ओबामा सरकार में अमेरिका-भारत के रणनीतिक संबंधों को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई थी। परिषद ने नतीजों के बाद कहा कि हम बाइडेन-कमला हैरिस प्रशासन के साथ काम करने को लेकर उत्साहित हैं। उसने कहा है, हमें उम्मीद है कि उनके नेतृत्व में अमेरिका-भारत आर्थिक भागीदारी अपनी पूरी क्षमता हासिल कर पाएगी और इससे दोनों देशों के नागरिकों के लिए अवसर पैदा होंगे। जेएसडब्ल्यू ग्रुप के चेयरमैन सज्जन जिंदल ने इस संबंध में ट्वीट कर कहा, एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया ने बदलाव के लिए वोट किया है। अमेरिकी समुदाय को इसके लिए बधाई, जिसने एक कठिन बाह्य परिस्थितियों में यह सुनिश्चित किया कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया से किसी तरह का समझौता ना हो। जेएसपीएल के चेयरमैन नवीन जिंदल ने भी ट्वीट कर बाइडन और हैरिस को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि आशा है कि इससे भारत और अमेरिका के बीच सहयोग और संबंध और मजबूत हो सकेगा।

Related Articles