टीम वीडी के नाम तय, दिल्ली मुख्यालय के आदेश का इंतजार

Team VD's name fixed, awaiting order from Delhi headquarters

भोपाल/राजीव चतुर्वेदी/बिच्छू डॉट कॉम। मध्यप्रदेश में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा की नई टीम के लिए नामों को अंतिम रूप दे दिया गया है, अब इस मामले में सिर्फ दिल्ली मुख्यालय से हरी झंडी मिलने का इंतजार किया जा रहा है। माना जा रहा है कि वहां से भी एक दो दिन में हरी झंडी मिल जाएगी, इसके बाद प्रदेश भारतीय जनता पार्टी की नई कार्यकारिणी घोषित कर दी जाएगी। इन नामों को अंतिम रुप देने के लिए बीते रोज ही वीडी शर्मा की प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत और प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा के साथ बेहद गोपनीय बैठक हुई है। इसमें ही नामों को अंतिम रूप दिया गया है। इन नामों पर अब संघ के क्षेत्र प्रचारक व मुख्यमंत्री से परामर्श कर दिल्ली भेजा जा रहा है। दिल्ली से सहमति मिलते ही इसकी घोषणा करने की तैयारी है। दरअसल इन नामों को अंतिम रूप देने के लिए बीते रोज उस समय बैठक की गई, जब मुख्यमंत्री प्रदेश भाजपा कार्यालय में कश्मीर के मसले पर पत्रकारवार्ता ले रहे थे। यही वजह है कि उस समय उनके साथ जब मंच पर यह तीनों ही प्रमुख नेता मौजूद नहीं थे।
सिर्फ महामंत्रियों की ही हुई नियुक्ति
केंद्रीय नेतृत्व द्वारा अब तक प्रदेश में पांच महामंंत्री और एक प्रदेश सह संगठन महामंत्री की नियुक्ति ही की गई है। इनमें से भी सह संगठन महामंत्री की नियुक्ति संघ की वजह से की गई है। इनके अलावा महामंत्री पद पर हरिशंकर खटीक, भगवानदास सबनानी, शरदेंदु तिवारी, कविता पाटीदार एवं रणवीर सिंह रावत को नियुक्त किया गया है। के नाम शामिल हैं। प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा को बनाया गया है। फिलहाल उपाध्यक्ष, प्रदेश मंत्री, मीडिया प्रभारी, प्रवक्ता के पदों के अलावा कार्य समिति सदस्य भी नियुक्त किए जाने हैं। गौरतलब है कि वीडी शर्मा की फरवरी 2020 में नियुक्ति की गई थी। इसके बाद से ही नई प्रदेश कार्यकारिणी गठन का इंतजार किया जा रहा है।
पार्टी हाईकमान से ली जाएगी सहमति
बताया जा रहा है कि तय किए गए नामों पर संघ के क्षेत्र प्रचारक दीपक बिस्पुते और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सहमति लेकर उसे दिल्ली भेजकर उसे जारी करने की अनुमति ली जाएगी। इसके बाद उसे दो तीन दिन में जारी कर दिया जाएगा। फिलहाल इस सूची से नियुक्त प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव की दूरी बताई जा रही है। इसकी वजह है उनके द्वारा अब तक प्रदेश प्रभारी के रुप में काम शुरू नहीं किया जाना। उन्हें पार्टी ने हाल ही में विनय सहस्त्रबुद्धे के स्थान पर नियुक्त किया है। बताया जा रहा है कि नई कार्यकारणी की घोषणा उनके प्रदेश दौरे से पहले करने की तैयारी है।

Related Articles