इमरती देवी का एक बार फिर विवादास्पद बयान, कहा- भाड़ में जाए पार्टी

भाड़ में जाए पार्टी! इस बयान को लेकर अब इमरती देवी को सफाई देनी पड़ रही है।

डबरा, बिच्छू डॉट कॉम। मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टी की तैयारियां युद्धस्तर पर जारी है। जैसेजैसे चुनाव की तिथि नजदीक आती जा रही है, कई नेताओं द्वारा जुबानी हमले तेज होते जा रहे है। बता दें कि बीते दिनों कमलनाथ द्वारा भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी इमरती देवी को लेकर दिए बयान पर जहां बवाल मचा हुआ था वही अब अपने बयानों के कारण विवादों में रहने वाली मंत्री इमरती देवी का किसानों ने घेराव कर दिया। शुक्रवार को इमरती देवी चुनाव प्रचार करने डबरा विधानसभा के मसूदपुर गांव पहुंची थीं। यहां केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ इमरती देवी का एक कार्यक्रम था। कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मसूदपुर से लौटते हुए इमरती देवी ने पार्टी को लेकर एक बयान दिया है जिसमे उन्होंने कहा कि -भाड़ में जाए पार्टी! इस बयान को लेकर अब उन्हें सफाई देनी पड़ रही है। इससे पहले भी इमरती देवी ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की माता और बहन को लेकर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया था।
किसानों ने मंत्री इमरती देवी को रास्ते में ही घेर लिया: बता दें कि शुक्रवार की शाम इमरती देवी मसूदपुर की सभा से लौटकर आ रहीं थीं, इसी दौरान मंडी गेट के सामने किसानों ने उनका वाहन रोककर घेराव कर दिया। इमरती देवी ने किसानों से कहा कि वे किसानों के साथ खड़ी हैं और उनके लिए लड़ती रहेंगी हैं। उसी दौरान किसानों ने इमरती देवी से कहा कि वे उनके साथ धरने पर बैठ जाएं और उनकी लड़ाई लड़े। इसी दौरान किसी किसान ने पार्टी की बात की तो इमरती देवी ने कहा कि पार्टी जाए भाड़ में, इस बात को लेकर बवाल खड़ा हो गया और लोगों के बीच इमरती देवी के इस बयान की जमकर चर्चा होने लगी।

कांग्रेस ने किया ट्वीट:पार्टी जाए भाड़ में वाले बयान को कांग्रेस ने साधा निशाना, कहा- सिंधिया कहते है यह चुनाव भाजपा का नही मेरा है, वहीं उनकी खास मंत्री कहती है बीजेपी जाए भाड़ में। हे ! भाजपाईयों, तुम्हारी मातृ संस्था को कोई भाड़ में झोंक रहा है, कब तक मौन रहोगे..?

Related Articles