हरियाणा किसान हड़तालः भारतीय किसान यूनियन चीफ गुरनाम सिंह सहित 300 के खिलाफ मामला दर्ज

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

हरियाणा में प्रोटेस्ट कर रहे किसानों की पुलिस के साथ झड़प हो गई थी। जिसमें पुलिस को लाठी चार्ज करने पड़ी। इसके बाद इस हड़ताल ने बड़ा रूप ले लिया है। अब सरकार ने स्टेट भारतीय किसान यूनियन चीफ गुरनाम सिंह सहित 300 लोगों के खिलाफ तोड़-फोड़ करने और सरकारी प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। थानेसर के सरदार पुलिस स्टेशन के एसएचओ नरेश कुमार ने बताया कि गुरनाम सिंह सहित 300 लोगों के खिलाफ सरकारी कामकाज में बाधा पहुंचाने और प्रॉपर्टी की तोड़फोड़ को लेकर मामला दर्ज कर लिया गया है। नरेश ने बताया कि इनके खिलाफ नेशनल हाइवे एक्ट तोड़ने और डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट को न मानने का भी आरोप लगाया गया है।

किसानों ने हाइवे किया जाम
गौरतलब है हरियाणा में किसानों ने कुरुक्षेत्र हाइवे पर जाम लगा दिया था। इसके बाद सरकार के खिलाफ किसान विरोधी नीतियों को लेकर नारे लगाने शुरू कर दिए थे। इसी बीच पुलिस और किसानों के बीच झड़प हो गई। इसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज कर दी। प्रोटेस्ट कर रहे किसानों ने पुलिस पर भी हमला किया और पत्थरबाजी शुरू हो गई। पुलिस को फायर ब्रिगेड मंगानी पड़ी। शाहबाद पुलिस ने भी 300 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक इस मामले में हत्या के चार्ज लगाए है। पुलिस ने बताया कि कुछ लोगों ने पुलिस अधिकारियों को ट्रेक्टर से कुचलने का प्रयास किया। दरअसल हरियाणा में सड़क पर उतरे किसान केंद्र सरकार के उन तीन अध्यादेशों का विरोध कर रहे हैं, जो कि मंडियों और किसानों से जुड़े हुए हैं। केंद्र सरकार ने तीन अध्यादेशों के जरिए फसलों के खरीद संबंधी नए नियम बनाए हैं, जिससे किसान नाराज हैं।

Related Articles