दमोह उपचुनाव: वीडी और प्रहलाद ने झोंकी पूरी ताकत

 कांग्रेस व भाजपा

भोपाल/प्रणव बजाज/बिच्छू डॉट कॉम। दमोह उपचुनाव में कांग्रेस व भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला दिख रहा है। इस बीच भाजपा प्रत्याशी राहुल लोधी की जीत तय करने के लिए भाजपा ने अब पूरी ताकत झोंक दी है। इसके तहत ही केन्द्रीय मंत्री और स्थानीय सांसद प्रहलाद पटेल और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा पूरी दमखम के साथ मैदान में उतर चुके हैं। यह नेता अब अपने सहयोगियों के साथ न केवल सभाएं कर रहे हैं, बल्कि लोगों के साथ बैठकें कर लोधी के पक्ष में मतदान करने के लिए भी लोगों को प्रेरित करने का काम कर रहे हैं। उधर, कांग्रेस के दिग्गज भी अब प्रचार के लिए दमोह आना शुरू हो गए है। इस कड़ी में बीते रोज पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इलाके में दो सभाएं कर अजय टंडन के पक्ष में माहौल बनाने का प्रयास किया। उनके द्वारा बांदकपुर और इमलिया में सभाओं को संबोधित किया गया। यह पहला मौका है जब किसी भी उपचुनाव में सत्ताधारी दल को न केवल पूरी ताकत लगानी पड़ रही है, बल्कि अपनी पूरी की पूरी दिग्गज नेताओं की टीम उतारनी पड़ रही है। कुछ दिनों से दमोह में ही स्थाई डेरा जमाए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा द्वारा विभिन्न धर्मगुरूओं और सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों से मुलाकात की गई। उन्होंने मां कर्मा बाई की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि भाजपा विकास के लिए हमेशा प्रतिबद्ध रही है। इस क्षेत्र के विकास के लिए सतधरू, सीतानगर, जुझार जैसी जल परियोजनाओं की स्वीकृति हमारी सरकार ने दी है। दमोह में मेडीकल कॉलेज की स्वीकृति भी हमारी सरकार ने दी है। उन्होंने कहा कि दमोह में विकास का क्रम निरन्तर जारी रहे इसके लिए आगामी 17 अप्रैल को भाजपा को विजयी बनाना है। उन्होंने कहा कि पिछले 15 सालों में भाजपा सरकार ने जनकल्याण की कई योजनाएं चलाईं जिसका लाभ समाज के हर वर्ग को मिला। वहीं कमलनाथ की 15 महीनों की सरकार ने जनता से उसका हक छीन लिया था। उन्होंने कहा कि पीएम और सीएम गरीब कल्याण के मिशन में जुटे हैं।
उधर केन्द्रीय मंत्री पटेल ने कहा है कि दमोह का विकास आम लोगों की मंशा के अनरूप हो इसके लिए पार्टी यहां के लोगों के सुझावों के आधार पर ही अपना चुनावी घोषणा पत्र तैयार करेगी। उन्होंने कहा कि दमोह की एक अलग सांस्कृतिक पहचान है। इसके लिए विशेष कार्ययोजना तैयार की गई है। उन्होंने कहा कि हमें विकास के साथ ही अपनी पहचान पर भी फोकस करना चाहिए।  उधर, कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि दमोह में चुनाव किसी विधायक या सांसद के निधन से नहीं बल्कि प्रजातंत्र के निधन से हो रहा है। इस सच्चाई को आपको समझना होगा और इसका जबाव भाजपा से लेना होगा। उन्होंने कहा कि मैं आपसे माफी मांगता हूं कि हमने पिछले चुनावों में एक ऐसे प्रतिनिधि को उतारा जिसने बीच में ही सौदा कर लिया। उन्होंने जनता से सच्चाई का साथ देने की अपील करते हुए कहा कि मैं चाहता तो सौदा कर लेता पर मैंने सौदा नहीं किया।
नौटंकी कर रहे शिवराज
कमलनाथ ने मिंटो हाल में सीएम शिवराज सिंह के स्वास्थ्य आग्रह पर बैठने को नौटंकी करार देते हुए कहा कि वे कहते हैं कि मैं सबको मास्क पहुंचाऊंगा पर अस्पतालों में डॉक्टर नहीं पहुंचाऊंगा। दवाई भी अस्पतालों में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 15 सालों में शिवराज सिंह ने सिर्फ झूठी घोषणाएं की हैं। झूठे आश्वसन दिए हैं। इनकी सरकार अब ज्यादा दिन चलने वाली नहीं है। नाथ ने यह भीआश्वासन दिया कि अगर दमोह में कांग्रेस जीती तो उसका विकास छिंदवाड़ा माडल की तर्ज पर किया जाएगा।
भाजपा के यह दिग्गज भी मैदान में
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल समेत भाजपा के कई दिग्गज नेता आज गुरूवार को भी दमोह में कई चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे। बांसा तारोड़ा की सभा को मुख्यमंत्री के अलावा प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव, पूर्व सीएम उमा भारती, केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, मंत्री गोपाल भार्गव, भूपेन्द्र सिंह समेत अन्य नेता संबोधित करेंगे। इसके अलावा दूसरी सभा इमलिया में पूर्व सीएम उमा भारती और वीडी शर्मा द्वारा ली जाएगी।  

Related Articles