ये है दुनिया की पहली उडऩे वाली कार, सरकार ने दी मंजूरी, जानें कब बाजार में आएगी

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम।

फ्लाइंग कार बनाने वाली डच कंपनी पेल-वी ने दुनिया की सबसे पहली उडऩे वाली कार की घोषणा कर दी है। इस कार का नाम पेल-बी लिबरटी रखा गया है। बता दें, यूरोप में इसे सरकार ने सडक़ों पर इस्तेमाल करने की मंजूरी भी दे दी है। इसी के साथ दुनिया भर में फ्लाइंग कारों का सपना देख रहे लोग इस कार को पहली बार सडक़ों पर देख सकेंगे। हालांकि इसे शुरुआत में महज कमर्शियल वाहन के रूप में प्रयोग किया जाएगा। लिबर्टी ने हाल ही में कड़े यूरोपीय रोड़ परीक्षणों को पास किया है। जिसके बाद अब इसे आधिकारिक लाइसेंस प्लेट के साथ सडक़ों पर चलाने की अनुमति दी गई है। बताते चलें कि फरवरी 2020 से लगातार इस कार के लिए परीक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें हाई स्पीड ब्रेक और ध्वनि प्रदूषण परीक्षण शामिल थे। कंपनी ने इस कार का प्रोटोटाइप सबसे पहले साल 2012 में उड़ाया था। जिसके बाद से लगातार इसका परीक्षण जारी है। बताते चलें कि लिबर्टी कमर्शियल की कीमत 399,000 डॉलर करीब 2.52 करोड़ रुपये से शुरू होती है। हालांकि इस कीमत में अभी टैक्स को शामिल नहीं किया गया है। इस कार को 2015 में यूरोपियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी के साथ एविएशन सर्टिफिकेशन के लिए भी भेजा जा चुका है। जिसे 2022 तक फाइनल किया जा सकता है। उसके बाद ही इस प्रोडक्ट की डिलीवरी शुरू होगी। पाल-वी सीटीओ माइक स्टेकेलबर्ग कहते हैं कि, हम इस मील के पत्थर तक पहुंचने के लिए कई वर्षों से सडक़ प्राधिकरणों के साथ सहयोग कर रहे हैं। इस कार की फ्लाइंग को सफल बनाने के लिए इसका डिजाइन हवा और सडक़ दोनों नियमों का पालन करता है।

Related Articles