इन आसान उपायों से होगी आय में बढ़ोत्तरी और रूकेगी फिजूल खर्ची

These simple measures will increase income and stop spending

बिच्छू डॉट कॉम। आय बढ़ाने या फिजूल खर्चों में कमी करने के लिए पॉकेट यानी पर्स का वास्तु भी ठीक करने की आवश्यकता होती है। पर्स में सिक्के और नोट दोनों को ही अलग-अलग स्थानों पर रखना चाहिए। जिन्हें अपनाने पर व्यक्ति को भी धन की कमी का एहसास ही नहीं होता है। आय बढ़ाने या फिजूल खर्चों में कमी करने के लिए अपनाएं ये वास्तु टिप्स…

– पर्स बाईं जेब में रखना अति शुभ माना गया है।
– पर्स में चाबी को ना रखें।
– पर्स में रुपए कभी भी मोड़ या फोल्ड करके ना रखें।
– पर्स में कभी भी रुपयों के साथ कोई बिल-रसीद या टिकट ना रखें इससे विवाद बढ़ता है।
– पर्स में कभी भी बीड़ी/सिगरेट या गुटखा आदि ना रखें।
– रात्रि में सोते समय पर्स कभी भी सिरहाने ना रखकर उसे हमेशा अलमारी में रखें।
– शौच के समय या शौचालय में पर्स आगे वाली जेब में रखें।
– यदि पर्स कभी फट या कट जाए, तुरंत बदल दें।
– यदि कर्ज का ब्याज देना हो तो वह रुपए पर्स में भूलकर भी ना रखें, रखोगे तो कर्ज नहीं उतरेगा बल्कि और चढ़ने की संभावना रहेगी।
– प्रत्येक जन्म दिवस पर अपने पर्स में एक नोट (छोटा या बड़ा) पर अपने पिता या माता के हाथों से केसर का तिलक लगा कर पूरे वर्ष के लिए रख दें। अगले जन्मदिवस पर किसी कन्या को दें। पुनः माता या पिता से तिलक करवा कर वर्ष हेतु रख लें।
– पर्स में सिक्कों की व्यवस्था अलग हो तथा बंद करके रखें। पर्स खोलते समय सिक्का नीचे नहीं गिरना चाहिए। इससे अपव्यय बढ़ता है।
– अपने पर्स में किसी पूर्णिमा को लाल रेशमी कपड़े में चुटकी भर या 21 दाने अखंडित चावल बांधकर छुपाकर रखने से बेवजह खर्च नहीं होता है।

Related Articles