बाथरूम के संबंध में वास्तु के इन नियमों को जरूर जानें

Please know these Vastu rules regarding bathrooms

बिच्छू डॉट कॉम। वास्तु शास्त्र में नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने और सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाने की टिप्स बताई गई हैं। अगर इन बातों का ध्यान रखा जाता है तो घर में पॉजिटिव एनर्जी बढ़ती है और हमारे विचारों की नकारात्मकता दूर होती है।  बाथरूम भी घर के सबसे जरूरी हिस्सों में से एक है। अधिकतर लोग बाथरूम के संबंध में वास्तु नियमों का पालन नहीं करते हैं। इसके वास्तु दोषों का बुरा असर हमारे दैनिक जीवन पर होता है।

– अगर बेडरूम में बाथरूम अटैच है तो दरवाजे बंद रखें और उस पर पर्दा भी जरूर डालना चाहिए। इससे बाथरूम की नकारात्मकता कमरे में आने से रुक जाती है।

– बाथरूम की सफाई नियमित रूप से करते रहना चाहिए। अन्यथा वास्तु के दोष बढ़ने लगते हैं। साथ ही, इस बात का ध्यान न रखने पर कुंडली में चंद्र और राहु के दोष भी बढ़ते हैं।

– नमक में नकारात्मकता ग्रहण करने की शक्ति होती है। इसलिए कटोरी में खड़ा नमक भरकर बाथरूम में रखना चाहिए।

– अगर संभव हो सके तो बाथरूम और रूम के बीच में एक दहलीज जरूर बनवानी चाहिए। इससे भी कमरे में नकारात्मकता आने से रुकती है।

– बाथरूम में सीलन नहीं होनी चाहिए। अगर नल से पानी टपकता है तो इससे भी दोष बढ़ते है। इन चीजों को भी ठीक करवा लेना चाहिए।

Related Articles