पन्ना धारण करने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

Keep these things in mind before wearing an emerald

बिच्छू डॉट कॉम। पन्ना बुध ग्रह का रत्न कहा जाता है, इसका स्वामी बुध है। एकदम शुद्ध पन्ने का मिलना काफी मुश्किल होता है। इसके बावजूद बाजार में काफी हद तक शुद्ध पन्ना मिलना कोई कठिन नहीं लेकिन फिर भी धारक को कई बातों का ध्यान रखना चाहिए। दोषपूर्ण पन्ना भी अन्य रत्नों की तरह नुकसानदायी होता है, अत: निम्न प्रकार के पन्ने कदापि नहीं धारण करना चाहिए…

-जो जाल सा गुंथा दिखे, ये अशुभ माना जाता है। इसके धारक को अस्वस्थता होती है।
– छोटी-छोटी टूटी धारियां वाला पन्ना वंशवृद्धि के लिए घातक सिद्ध होता है।
-खुरदरा पन्ना धारण करने वाले के पशुधन का नाश होता है।
-बिना चमक का पन्ना धनहानि देता है।
-सुन्हरे रंग का पन्ना तो हर प्रकार का कष्ट का कारक है।
-पन्ने में अगर रक्त के समान बिंदु दिखे तो ये सुख-संपत्ति का विनाश करता है।
-शहद जैसे रंग का पन्ना माता-पिता के लिए कष्टप्रद होता है।
-पीली बिंदियां दिखने वाले पन्ने को कभी न पहनें, इससे पुत्र नाश की स्थिति पैदा होती है।
-दो रंग दिखने वाइससे बल-बुद्धि आदि नष्ट होती है।

ये लोग न पहनें पन्ना
अगर इन पापी भावों 6, 8, 12 का बुध स्वामी हो तो पन्ना पहनने से अचानक नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।  बुध की यदि महादशा चल रही है और बुध आठवें या 12वें भाव में बैठा है तो पन्ना पहनने से समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

-पन्ने को ओपल व हीरे के साथ नहीं पहनने से नुकसान होता है।
-पन्ने को मोती के साथ भी धारण नहीं करना चाहिए।

Related Articles